Saturday 15 November 2008

चाँद पर पहुँच गया भारत

----चुटकी----

बीजेपी- कांग्रेस में
लग रहें हैं
टिकटों के दाम,
इसका मतलब
भारत सचमुच
चाँद पर
पहुँच गया श्रीमान।

---गोविन्द गोयल

4 comments:

राज भाटिय़ा said...

गरीब के पेट मे दाना नही पहुचा, बच्चे बिना दुध के रो रहै है, लेकिन हम गोरव से कहते है हम चांद पर अपना तिरंगा लहरा आये???
आप की कविता बहुत सटीक है.
धन्यवाद

seema gupta said...

बीजेपी- कांग्रेस में
लग रहें हैं
टिकटों के दाम,
इसका मतलब
भारत सचमुच
चाँद पर
पहुँच गया श्रीमान।
" bhut khub khee, ab chanda mama dur ke nahee rhe naa...."

Regards

दिगम्बर नासवा said...

चाँद पर भी तिरंगा
कोंग्रेस का भी तिरंगा

लगता है राजनीती की कोई चाल है

makrand said...

bahut khub