Sunday, 28 March, 2010

नर्सिंग होम में हंगामा

श्रीगंगानगर के आदर्श नर्सिंग होम में इलाज के दौरान एक महिला की मौत के बाद उसके परिजनों ने नर्सिंग होम के अन्दर बाहर धरना देकर एक सामान उस पर अपना कब्ज़ा कार लिया। एक दिन एक रात के बाद पुलिस भारी सुरक्षा में डॉक्टर प्रवीण गुप्ता को अपने साथ ले गई। उसके बाद परिजन महिला की लाश भी ले गए। नर्सिंग होम के आस पास जबरदस्त तनाव रहा। इसको देखते हुए पुलिस के सभी अफसर मौके पर रहे।

Saturday, 27 March, 2010

कुत्ता उड़ाए माल

----चुटकी----

नौकर खाए
सूखी रोटियां
कुत्ता उड़ाए माल,
एक ही घर में
रहते दोनों,
कौन, किस से
करे सवाल।

Friday, 26 March, 2010

संघ की थीम

---- चुटकी-----
संघ
की
थीम,
गडकरी
की
टीम।

Thursday, 25 March, 2010

शीला दीक्षित तैश में

---- चुटकी-----

शीला दीक्षित
तैश में,
आग लगा दी
गैस में।

Tuesday, 23 March, 2010

तेरे जैसा देश भक्त

तेरे जैसा देश भक्त
कोई हुआ ना होगा मतवाला,
भारत मां की रक्षा हेतु
अपना जीवन डे डाला।

आज हम अपने परिवार के साथ भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को प्रणाम करते हैं। उनकी वीरता के कारण भारत आजाद हुआ। अब वर्तमान में भारत नेताओं से डर रहा है। कहीं ऐसा ना हो कि वे अपने स्वार्थ के लिए इस देश को अपना या अपने किसी पार्टनर का गुलाम ना बना लें। इस बार कोई देश को मुक्त करने भी नहीं आने वाला।

Sunday, 14 March, 2010

मंदिर मंदिर धोक खाता रहा

बेवफा बता
बद दुआ
देता है वो,
और मैं
उसके लिए
मंदिर मंदिर
धोक खाता रहा।
-----
बिन बुलाये
वक्त बेवक्त
चला आता था,
अब तो
मुड़कर भी ना देखा
मैं आवाज लगाता रहा।
----
एक सुरूर था
दिलो दिमाग पर
अपना है वो,
देखा जो
गैर के संग
तो नशा उतर गया।

Friday, 12 March, 2010

बात तो कुछ भी ना थी

-----
बात तो, कभी भी
कुछ भी ना थी,
मैं तो बस यूँ ही
मुस्कुराता रहा,
अपनों को खुश
रखने के लिए
अपने गम
छिपाता रहा।
-----
मेरे अन्दर झांकने वाले
गुम हो गए दो नैन,
कौन सुनेगा,किसको सुनाऊं
कैसे मिले अब चैन।