Monday, 20 October, 2008

मर्दों का आसरा

---- चुटकी----

मर्दों का आसरा
उनका सासरा।

--गोविन्द गोयल

4 comments:

अनुपम अग्रवाल said...

सास बहू की गर्द
आसरा पाए मर्द

मयंक said...

सास बहू की गर्द
आसरा पाए मर्द

और सास जो देगी दर्द
तो होगी बहू बेपर्द

अनुपम जी आप भी अपने ब्लॉग पर चुटकियाँ लिखनी शुरू क्यों नही करते ?

Gyandutt Pandey said...

:)

Suresh Chandra Gupta said...

सास बहु के किस्से बहुत सुने,
कुछ हो जाएँ सास दामाद के किस्से.