Sunday 19 October 2008

लिखने का महत्व अधिक

श्री राजदीप सरदेसाई टी वी न्यूज़ चैनल के जाने माने नाम है। उनके लेख अख़बारों में छपते रहतें हैं। इस से "लिखे" का महत्व साबित होता है। जो लिखा गया वह इतिहास बन जाता है।
---- चुटकी-----

न्यूज़ चैनल से अधिक
न्यूज़ पेपर का
महत्व है मेरे भाई,
तभी तो न्यूज़ पेपर में
लेख लिखतें है
राजदीप सरदेसाई।

-----गोविन्द गोयल

2 comments:

Mrs. Asha Joglekar said...

Rajdep ji ke bheji ki nahi ye chutaki.

Suresh Chandra Gupta said...

चेनल पर देखा सुना,
क्या मिला?
अखबार पढ़ा,
और रद्दी भी बनी.