Saturday 25 October 2008

जनता का राज है

---- चुटकी-----

महाराज है,
महारानी है
युवराज है ,
जी हाँ, भारत में
जनता का राज है।

--- गोविन्द गोयल

3 comments:

Udan Tashtari said...

सही है!!!

आपको एवं आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं.

seema gupta said...

" or maharaj ke chaaplus khan gye ...?????????? or ye janta kyun naraj hai.."

Regards

Suresh Chandra Gupta said...

@जी हाँ, भारत में जनता का राज है।

यह राजा जनता स्वयं चुनती है, या यह कहें कि चुनना पड़ता है. यह राजा जनता द्वारा चुने जाने के बाद जनता के लिए, जनता के नाम पर, जनता पर राज करते हैं. यही सच्चा जनता का राज (प्रजातंत्र) है.