Sunday 12 October 2008

अर्थशास्त्री का मारा है

----- चुटकी-----
ये जो महान
देश हमारा है,
वह अर्थशास्त्री
का मारा है।

-------गोविन्द गोयल

2 comments:

डॉ० कुमारेन्द्र सिंह सेंगर said...

यशवंत जी की पोस्ट पर मेरी टिप्पणी पढ़ लीजियेगा. आपके अनुरोध पर विचार करेंगे पर तब तक टिप्पणी से ही मूंग दलेंगे.

makrand said...

bahut acche
pacemaker le ke jaiye
regards