Tuesday, 9 September, 2008

खबरें ऑफ़ दी रिकॉर्ड

पुलिस अधीक्षक--किसी और को मालूम हो या ना हो लेकिन पुलिस विभाग जानता है कि श्रीगंगानगर के पुलिस अधीक्षक रात ९-१० बजे तक ऑफिस में काम निपटाते हैं। अच्छी बात है। मगर ये बात बहुत कम लोग जानतें हैं कि पुलिस अधीक्षक ऑफिस ने दोपहर को आते हैं। जानकारी मिली है कि उन्होंने लिखित में आदेश जारी कर रखा है कि जब तक मैं ऑफिस में रहूँगातब तक सब रहेंगें। आदेश में ये नहीं लिखा कि बाकि सब भी ऑफिस में तभी आयें जब वे आयें। एक बार तो उन्होंने एक सी ओ को रात को रुकने को कहा। सी ओ ने साफ इनकार कर दिया। वैसे एक पुलिस अधीक्षक ने अपनी पहली प्रेस कांफ्रेंस में कहा था कि जल्दी बदलाव देखने को मिलेगा।
कलेक्टर की बातें--सब जानतें हैं कि जिला कलेक्टर भवानी सिंह देथा बहुत रूखे है। लेकिन कभी कभी वे किन्हीं से राजनीति की बात भी करने लगते है। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से अपने संबंधों का जिक्र करना नहीं भूलते।वे टिकटों के बारे में पुछेंगें,अशोक गहलोत उनके सहपाठी रहें है ये बताएँगे। बस उसके बाद कांग्रेसी तो अलग प्रकार से बात करतें हैं और दूसरी प्रकार के कांग्रेसी अलग प्रकार से। उन्होंने अपने यहाँ से चिट सिस्टम हटा दिया है।
राजनीति की चर्चा--बीजेपी के अध्यक्ष सीता राम मोर्य ने अपना ने संगठन -सरकार की मुखिया को पत्र लिख कर कुछ नाम सुझाये हैं । श्री मोर्य के अनुसार इनको टिकट दे दी जाए तो पार्टी का बेडा पार हो सकता है। चर्चा के अनुसार उन्होंने सादुलशहर से श्री गुरजंट सिंह बराड़, श्रीगंगानगर से हनुमान गोयल,करनपुर से कोई सोडी इसी प्रकार से अशोक नागपाल ,चिमन मधु और ख़ुद के नाम भेजें है। लगता है कि श्री मौर्य जी ने बहुत स्टडी की है। इसके लिए। वैसे जो लोगों के दिलो में है उससे तो ऐसा लगता है कि आज के दिन राधेश्याम गंगानगर,गुरमीत सिंह कुन्नर,दुलाराम ,सादुलशहर से महेंद्र सिंह बराड़ और संगरिया से गुरजंट सिंह बराड़ जिताऊ उम्मीदवार हैं।