Friday 5 September 2008

चुटकी


चुटकी
परमाणु करार की
खुल गई पोल,
प्यारे मोहन
कुछ तो बोल।
----गोविन्द गोयल,श्रीगंगानगर

1 comment:

Udan Tashtari said...

बोलेंगे, थोड़ा सब्र करो!! :)