Wednesday 27 August 2008

डेरा प्रेमियों की मांग

संत राम रहीम गुरमीत सिंह के अनुयाइयों ने आज श्रीगंगानगर के जिला कलेक्टर को ज्ञापन दिया है। ज्ञापन में कहा गया है कि कुछ लोग धर्म की आड़ लेकर समाज में जहर घोलने का काम कर रहेहै। इस के लिए प्रदेश के बाहर के लोगो को बुलाया जा रहा है। डेरा प्रेमियों का कहना है कि समागमो की आड़ में देश विरोधी और धर्मगुरुओं के प्रति टिप्पणियां करेंगे। ज्ञापन में उन लोगो के नाम दिए गएँ हैं जो बाहर से बुलाये जा रहें है। प्रेमियों ने जिला कलेक्टर से इन लोगों के जिले में प्रवेश और उनके कार्यकर्मों पर रोक लगाने की मांग की गई है। ज्ञापन के अनुसार पीलीबंगा में एक डेरा प्रेमी द्वारा किया गया आत्मदाह इसी प्रकार के कार्यक्रम का नतीजा था। तब भी डेरा प्रेमियों ने प्रशासन को पहले चेताया था लेकिन प्रशासन ने कुछ नही किया था। डेरा प्रेमियों ने जिला कलेक्टर को दिए ज्ञापन में कहा है कि हम काफी समय से शांतिपूर्ण तरीके से प्रशासन को सूचित कर रहें है लेकिन प्रशासन को शांतिपूर्ण तरीके से काम करने वालों की बात सुनना पसंद नहीं है। अब हमारी [डेरा प्रेमियों की] सहन शक्ति जवाब दे चुकी है। [फोटो--डेरा प्रेमी ज्ञापन के साथ। जिला कलेक्टर को ज्ञापन देते समय फोटो खींचने की अनुमति नहीं थी। ]

No comments: