Friday 13 November 2015

थड़े तोड़े जाएंगे, सीवरेज घरों मेँ बनाएं लोग-पुनिया



श्रीगंगानगर। नगर परिषद आयुक्त करतार सिंह पुनिया ने कहा है कि थड़े तोड़े जाएंगे। किसी के पास स्टेट टाइम का कुछ इस बाबत लिखा है तो दिखा दे। बस उसके बाद उन्होने फोन काट दिया। इससे पहले इस रिपोर्टर ने कहा कि लेकिन लोग सीवरेज का क्या करेंगे? इसके जवाब मेँ उनका कहना था कि ये लोग खुद देखें। अपने घरों के अंदर बनाएं। जिस साइज का उनका प्लाट है, उसमें निर्माण करे सीवरेज का। सीवरेज सुविधा देना तो सरकार का काम है। इसके जवाब मेँ श्री पुनिया ने कहा कि अप्रेल मेँ तीसरे फेज का काम शुरू होगा। आज कब्जा हटाने के बारे मेँ श्री पूनिया ने बताया कि चार पाँच दिन का समय दिया गया है। लोग खुद हटा लें कब्जे। ये बात आज सुबह 11 बजकर 7 मिनट पर की गई।

उधम सिंह चौक से भाटिया पेट्रोल पंप वाली सड़क, खुद हटा रहे हैं कब्जे

श्रीगंगानगर। उधम सिंह चौक से लेकर भाटिया पेट्रोल पंप तक की सड़क पर कब्जे हटाने का काम अभी शुरू नहीं हुआ है। लोगों मेँ असमंजस, डर, बेफिक्री के भाव हैं। कहीं लोग दुविधा मेँ हैं कि कब्जे हटाएँ या ना। कुछ लग डर के कारण खुद कब्जे हटाने लगे हैं। बड़ी संख्या मेँ लोग अभी भी बेफिक्र हैं। उनकी दिनचर्या अप्रभावित है। स्वामी दयानन्द स्कूल के आस पास लोग थड़े पर किए कब्जे को हटाने मेँ लगे थे। छप्पर तो हटाये जा चुके थे। नालियों को ढक कर बनाए गए रैम्प और सीढ़ी तोड़ने का काम हो रहा था। राधेश्याम गंगानगर के आस पास लोग बेफिक्र भी थे और फिक्र मंद भी। कई परिवार कब्जे हटा रहे थे। अनेक स्थानों पर लोग आपस मेँ चर्चा करते नजर आए। कुछ का कहना था कि कब्जे नवंबर के बात हटेंगे। एक ने बताया कि कलक्टर ने ये कहा है कि आप कब्जे खुद ही हटा लो। नगर परिषद के उपाध्यक्ष लक्की दावड़ा भी इसी सड़क पर लोगों से चर्चा करते मिले। उनको शिकायत थी कि पार्षद कई दिनों तक सड़क निर्माण के लिए धरने पर बैठे, उनके पास कोई नहीं आया। अब पार्षद भी कुछ ऐसा ही सोच रहे हैं। इन सबके बीच राधेश्याम गंगानगर का मकान मेँ सब कुछ वैसा का वैसा था। कब्जे तोड़ने के लिए प्रशासन आया नहीं था। यूं आज सरकारी अवकाश है।


No comments: