Monday 23 November 2015

अशोक नागपाल को आज तक नहीं मिला निलंबन का पत्र


श्रीगंगानगर। बीजेपी की जिलाध्यक्षी से हटाए गए पूर्व विधायक अशोक नागपाल को आजतक पार्टी से निलंबन की लिखित  सूचना नहीं नहीं मिली है। उनके घर आज भी बीजेपी का झण्डा लगा है। श्रीनागपाल ने 13 दिसंबर 2014 को 13 प्वाइंट लिख कर प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी को दिये थे। उनका आज तक ना तो कोई जवाब अशोक नागपाल को मिला है। ना ही उनकी जांच करवाई  गई है। अशोक नापगाल ने इस रिपोर्टर को बताया कि एक साल से वे कई बार प्रदेश अध्यक्ष से मिले हैं। हर मुलाक़ात मेँ उन्होने यही कहा कि वे अगले सप्ताह आपको बुला लेंगे। बात सुन लेंगे। 13 प्वाइंट्स की जांच करवा लेंगे। श्रीनागपाल के अनुसार आज तक इस मुद्दे पर संगठन ने बात नहीं की। उनका कहना था कि वे तो समाचार पत्रों और टीवी समाचारों मेँ आई निलंबन की खबरों से अपने आप को पार्टी से निलंबित मान रहे हैं। लिखित मेँ कुछ नहीं मिला।

जिंदल-टिम्मा अलग हुए, दो होंगे कन्या लोहड़ी उत्सव

श्रीगंगानगर। इस बार नगर मेँ दो दो कन्या लोहड़ी उत्सव मनाए जाएंगे। दोनों मेँ ही लड़कियों को फ्री फ्री शिक्षा के पैकेज दिये जाएंगे। कौन कितने पैकेज देगा ये, आयोजन के बाद पता चलेगा। एक उत्सव हमेशा की तरह चेम्बर ऑफ कॉमर्स का होगा। दूसरा इस बार बाबा दीप सिंह सेवा समिति करेगी कई सालों से कन्या लोहड़ी माना रहा चेम्बर ऑफ कॉमर्स रामलीला मैदान मेँ कन्या लोहड़ी 11 से 13 जनवरी के बीच किसी तिथि को मनाएगा। जबकि समिति ने अभी तिथि की घोषणा नहीं की है। जानकारी मिली है कि दोनों के पदाधिकारी शिक्षण संस्थों से पैकेज लेने के लिए कोशिश कर रहे हैं। चेम्बर का नेतृत्व इंजी बंशीधर जिंदल के पास है जबकि समिति के सर्वेसर्वा तेजेन्द्रपाल सिंह टिम्मा है। कुछ खास व्यक्ति दोनों को फिर से एक करवाने की कोशिश मेँ है। जबकि बड़ी संख्या मेँ ऐसे व्यक्ति भी हैं जो किसी भी सूरत मेँ दोनों को एक देखना नहीं चाहते। दो उत्सव होने के बाद धड़ेबंदी होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। टिम्मा विरोधी जिंदल के इर्द गिर्द जमा हो सकते हैं तो जिंदल विरोधी टिम्मा मेँ हवा भरने से नहीं चूकेंगे। 

No comments: