Wednesday 23 September 2009

उदास उदास थरूर

---- चुटकी----

मैडम ने
उतार दिया
सारा सरुर,
उदास उदास
घूमते हैं
अब
शशि थरूर।

12 comments:

'अदा' said...

इ अगर चुटकी है तो थप्पड़ क्या होगाआआ ....

CHETNA said...

Good comment sir. i enjoy that.

Roshani

lalit sharma said...

थारी हेडिंग देख के एक बरी मेरी तो हवा होयगी थी के थाने कीन्या पतों लग गयो के परसुं जन्मदिन वाले दिन म्हारे सागे आ हुयोड़ी हैं, मेडम ने सुरूर उतारयो हैं, आ बात गंगानगर ताईं पहुचगी, आ इंटर नेट बड़ी चोखी चीज हैं भली हो या बुरी सारी खबरां फैला दे छे,फेर आगे पढ़यो तो जान में जान आई आ बात म्हारा सुरूर की कोणी,थरूर की हैं, बधाई हो,नारायण जी

SUNIL DOGRA जालि‍म said...

वाह जी... हमारा तो दिल ही तोड़ दिया

समयचक्र - महेंद्र मिश्र said...

बहुत बढ़िया ख्याल है
नारायण नारायण

अशोक मधुप said...

यहां मैडम में ही तो दम है बाकी तो सारे बेदम है।

अशोक मधुप said...
This comment has been removed by the author.
हेमन्त कुमार said...

खूब कहा जी ! आभार !

Murari Pareek said...

शशि थरूर उतर गया सारा गरूर |

एमएस शकील said...

achcha hai........

S B Tamare said...

crafted very good sarcasm !
holly cow has forgiven him at very low cost!

Nitish Raj said...

good one