Saturday, 9 March, 2013

फील्ड से हटी पुलिस, डीएम को पता नहीं



श्रीगंगानगर- जिस पुलिस के भरोसे पूरा शहर है वही पुलिस अघोषित हड़ताल पर है। एसपी कहते हैं कि जनता को पता लगना चाहिए कि पुलिस के बिना क्या होता है। । जिला कलेक्टर को शाम 5.23 तक इस बात की जानकारी ही नहीं थी। यह कोई होली की ठिठोली नहीं है,सच है। शहर के सभी पुलिस अधिकारियों,थाना प्रभारियों सहित समस्त स्टाफ ने एसपी संतोष चालके को यह लिख कर दे दिया कि वे फील्ड में ड्यूटी नहीं करेंगे। इसलिए उनको पुलिस लाइन में लगाया जाए। लिखित में यह निवेदन देकर सभी कोतवाली से पैदल पैदल पुलिस लाइन पहुँच गए। नगर में कोई पुलिस कर्मी दिखाई नहीं दे रहा। शिवरात्रि के उपलक्ष में आज शहर में भव्य शोभायात्रा निकली लेकिन उसके साथ कहीं कोई पुलिस कर्मी नहीं था। ना किसी चौराहे पर ना यात्रा के साथ। एसपी संतोष चालके से हमने बात की...सर जी,क्या पुलिस हड़ताल पर है?एसपी ने कहा,नहीं। एसपी ने बताया कि मैं पुलिस लाइन गया था....सभी वाले आपके नेतृत्व में गए थे क्या....एसपी बोले,नहीं मैं तो उनको समझाने गया था। वे शाम को कालीपट्टी बांध कर ड्यूटी करेंगे। कुछ समय तो उनको आने मे लगेगा ही। एसपी ने कहा कि आम जनता को पता लगना चाहिए कि पुलिस के बिना क्या होता है। फिर बात को थोड़ा संभालते हुये एसपी बोले,जनता तो हमारे साथ है। हमारा भी आत्म सम्मान है। जयपुर की जनता ने हमारे पक्ष में जाम लगाया है। एसपी ने उससे अधिक बात नहीं की। इसके बाद जिला कलेक्टर श्रीराम चौरडिया से बात की। कलेक्टर नेकहा मुझे इस बात की जानकारी नहीं है। मैं अभी एसपी से बात करता हूँ। वे बोले,दोपहर को मैं  ऑफिस गया था तब तो ड्यूटी पर थे पुलिस वाले। उपपुलिस अधीक्षक राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि एसपी को लिख कर दे दिया कि फील्ड में काम नहीं करेंगे। कल से काली पट्टी बांध कर ड्यूटी करेंगे लेकिन लाइन में रहेंगे। [9.3.13]

No comments: