Sunday 8 March 2009

छोड़ दो सारे लफड़े

आज महिला दिवस है। सभी को बधाई। सब महिलाएं ताक़तवर बनें[ एक दो को छोड़कर,सॉरी, मज़बूरी है, सर को बचाना जरुरी है]। एक दूसरे की मदद करके महिला दिवस के होने का एहसास करें। महिलाओं को उनके इस दिवस पर समर्पित है यह चुटकी।

---- चुटकी----

मांजो बरतन
धोओ कपड़े,
एक दूजे की
हेल्प करो
छोड़ कर
सारे लफड़े।

4 comments:

रंजन said...

:(

manvinder bhimber said...

महिला दिवस पर ही नहीं .....हमें .हमेशा ही अपने पर गर्व है ....अंतर राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभ कामनाएं

PREETI BARTHWAL said...

महिला दिवस की शुभकामनाएं।

राज भाटिय़ा said...

अजी हम तो ससुराल मे जा कर भी बरतन मांजते है ? भाई डर के रहना पडता है....:)


आपको और आपके परिवार को होली की रंग-बिरंगी भीगी भीगी बधाई।
बुरा न मानो होली है। होली है जी होली है