Thursday 9 April 2009

भूत पिशाच निकट नहीं आवै


बुद्धि हीन तनु जानिके
सुमिरो पवन कुमार,
बल,बुद्धि,विद्या देहु मोहिं
हरहु कलेस विकार।

7 comments:

seema gupta said...

श्री राम भक्त हनुमान की जय हो

Regards

Anil Pusadkar said...

बजरंगबली की जै,पवनपुत्र हनुमान की जै।

Nirmla Kapila said...

anjani putar ki jai ho apko bhi hanumaan jyanti ki mangalkamnaayen

Harsh said...

jai jai jai hanumaan gusai kirpa karo maharaaj......

neeshoo said...

जय हनुमान , जय श्री राम

MUMBAI TIGER मुम्बई टाईगर said...

जय हो बजरग बली तोड दे दुश्मन कि नली

हे प्रभु का जयजिनेन्द्र

परमजीत बाली said...

बहुत सुन्दर चित्र है।
ओम नमो वायुनंदनाय।