Monday 9 January 2012

बी डी की बड़ी किसान सभा ने नेताओं को हैरत में डाला




श्रीगंगानगर-क्षेत्र के अग्रवाल समाज में अपनी पैठ जमाने के बाद सोमवार को विकास डब्ल्यूएसपी के एमडी बी डी अग्रवाल ने किसानों के बीच भी अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज करवाई। सर छोटू राम को श्रद्धांजलि देने के लिए श्रीअग्रवाल ने किसानों की बड़ी सभा आयोजित कर यह साबित कर दिया कि वे भी किसानों को एकजुट कर सकते हैं। नेता या कोई किसान नेता इस प्रकार की सभा उस जगह करवाना पसंद करता हैं जहां लोगों की भीड़ दिखे। किन्तु बी डी ने अलग हटकर उस जगह सभा की जहां कोई सोच भी नहीं सकता। शहर से दूर सभा में किसने क्या कहा,इसका उतना महत्व नहीं जितना ये कि उसमें कितनी संख्या में किसानों की भागीदारी रही। सभा में किसानों की संख्या के बारे में जैसे ही नेताओं को पता लगा उनके पास कहने को कुछ नहीं था। क्योंकि कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था कि एक अकेला बी ड़ी अग्रवाल किसानों को इतनी बड़ी संख्या में एकत्रित कर सकता है। सर छोटूराम किसान समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बी.डी. अग्रवाल ने कहा है कि वे और उनका पूरा परिवार किसानों की सेवा में समर्पित है और रहेगा। वे किसानों को पूरा हक दिलाने के लिए सदैव संघर्षरत रहेंगे। किसान अपने को इतना बुलंद करें कि भगवान खुद उससे पूछ कर उसकी किस्मत लिखे। अग्रवाल ने कहा कि डब्ल्यूटीओ ने सरसों और अन्य जिंसों के भाव तय कर रखे हैं। किसानों को वह भाव नहीं दिए जा रहे हैं। इससे किसान का शोषण हो रहा है। उन्होंने कहा कि हमारा पहला लक्ष्य है डब्ल्यूटीओ के अनुसार किसान को उसकी उपज का न्यूनतम मूल्य मिले। अधिकतम मूल्य हम लेना जानते हैं। वह हम अपने आप ले लेंगे।सभा को जिला परिषद के सदस्य महेश बुडानिया,किसान नेता गुरबलपालसिंह संधू,पार्षद रमजानअली चोपदार, नत्थूराम सींवर, डॉ. सुखदेवसिंह, उदयपाल झाझडिय़ा, बालकिशन, अंग्रेजसिंह वाल्ला, अमरीककौर, कृष्ण सहारण, नत्थूराम सिंगला व विजेंद्र पूनिया ने भी संबोधित किया। मंच संचालन महेश गुप्ता ने किया।

No comments: