Tuesday, 12 January, 2010

स्वामी विवेकानंद की जयंती

आज भारत के महान सपूत स्वामी
विवेकानंद जी की जयंती है उनको याद करके हम गौरव का अनुभव कर रहे है हमारा उनको सादर प्रणाम !

9 comments:

Udan Tashtari said...

स्वामी विवेकानन्द जी की पुणय आत्मा को शत शत नमन!!

Kusum Thakur said...

स्वामी विवेकानंद को शत शत प्रणाम !!

विनोद कुमार पांडेय said...

स्वामी विवेकानंद जैसे देश के महान संत को सादर को नमन!!

डॉ. मनोज मिश्र said...

सादर नमन.

shashibhushantamare-jyotishbole said...

गोयल जी,
स्वामी विवेकानंद की पुन्य तिथि को याद रखकर आपने अपने हृदय आँगन में झांकने का मौक़ा दिया, क्योकि स्वामी जी के विचार सझने वाला ही उनकी स्मृतियों का दुनिया के सामने बारबार ला सकता है /थैंक्स/

aarkay said...

नारद मुनि जी याद दिलाते रहने के लिए आपका आभार !
वैसे यह दिन युवा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है
इस महान विभूति को शत शत नमन !

Rekhaa Prahalad said...

स्वामी विवेकानंद को शत शत नमन,

राज भाटिय़ा said...

स्वामी विवेकानन्द जी की पुणय आत्मा को नमन!!

राजेंद्र माहेश्वरी said...

सभी मरेंगे- साधु या असाधु, धनी या दरिद्र- सभी मरेंगे। चिर काल तक किसी का शरीर नहीं रहेगा। अतएव उठो, जागो और संपूर्ण रूप से निष्कपट हो जाओ। भारत में घोर कपट समा गया है। चाहिए चरित्र, चाहिए इस तरह की दृढ़ता और चरित्र का बल, जिससे मनुष्य आजीवन दृढ़व्रत बन सके।