Thursday, 14 January, 2010

क्या रह गया बाकी

--चुटकी--

भारत की हाकी ,
क्या रह गया
अब
बताने को बाकी।

5 comments:

"Aks" said...

खिलाड़ी मार रहे हैं फाकी !!!

seema gupta said...

ha ha ha well said...

regards

डॉ. मनोज मिश्र said...

shee hai.

Rekhaa Prahalad said...

सुना है माया ने करोडो का दिया सहारा
देखते है पलटती कैसे है हाकी कि काया:)

रवि धवन said...

नारायण...नारायण। नारदजी के भी शब्द अब साथ नहीं दे रहे गैरों की तो छोड़ो, अपनों की ही नजर लगी गई हॉकी को