Friday 22 January 2010

गब्बर आ जायेगा

किसी समय मां अपने दूध के लिए रोते बच्चे को यह कह कर सुलाती थी, सो जा , नहीं तो गब्बर आ जायेगा। मगर अब जमाना बदल गया है।देश आगे और बहुत आगे हो चुका है। तरक्की के नमूने घर घर देखे जा रहे हैं। अब मां दूध के लिए रोते अपने बच्चे को यह कह कर डराती है - सो जा लाडले नहीं तो शरद पवार आ जायेगा।
उसके बाद पडौसी के बच्चे तक चुप हो जाते हैं।

3 comments:

ह्रदय पुष्प said...

सो जा लाडले नहीं तो शरद पवार आ जायेगा।
बहुत सही और सटीक

पी.सी.गोदियाल said...

वैसे भी पहले ही कुदरत उनके थोबड़े पर मेहरबान हो चुकी है :)

डॉ. मनोज मिश्र said...

शरद पवार आ जायेगा ???
vaah,narayan-narayan...