Tuesday, 4 October, 2011

पकड़ा सच का हाथ

---चुटकी---

पकड़ा सच का हाथ

बिगड़ गई हर बात,

बन गई इक इक बात

जब चला झूठ के साथ।

1 comment:

SKT said...

सही कहा सर ...झूठे का बोलबाला, सच्चे का मुंह काला!!