Tuesday, 8 February, 2011

बसंत नेताओं के खाते में

प्रत्येक ऋतु के
सभी बसंत
नेताओं के खाते में ,
आदमी
मारा गया
लोकतंत्र के
इस घाटे में

2 comments:

कविता रावत said...

लोक kahan sirf तंत्र hi haavi hai aam aadimi par.. sateek rachna..

ललित शर्मा said...

वाह वाह
बढिया चुटकी ली है।

आभार