Monday 16 March 2009

सियासत की लाचारी

---- चुटकी----

सियासत की
देखो लाचारी,
झुक गए
प्रेजिडेंट जरदारी।

-----
पाक में,किसने
किसके सामने
डाले हथियार,
ये अभी तो
पर्दे में है मेरे यार।

1 comment:

Gagagn Sharma, Kuchh Alag sa said...

पर्दे में है यार, वहां आज तक किस की चल पायी है।
सर पर खड़ी है फौज, प्रजा चीखे दुहाई है, दुहाई है।