Friday 15 October 2010

दुर्गा माता की महाआरती




श्रीगंगानगर के दुर्गा मंदिर में आज रात को अष्टमी के पर देवी दुर्गा की महाआरती की गई। एक साथ कई सौ बत्तियां प्रज्जवलित कर यह आरती हुई। मंदिर के कई दशकों पुराने पुजारी श्याम सुन्दर ने आरती की शुरुआत की। उसके बाद उसको उनके बेटे ऋषि कुमार ने संपन्न किया। आरती के समय बहुत बड़ी संख्या में धर्म परायण नर नारी,बच्चे मौजूद थे। दुर्गा मंदिर देवी माँ के जयकारों से गूंज रहा था। आरती के बाद प्रसाद का वितरण हुआ। अनेकानेक नर नारियों ने देवी माँ को चुनरी,सुहाग का सामान अर्पित किया।

3 comments:

अशोक बजाज said...

बेहतरीन पोस्ट .आभार !
महाष्टमी की बधाई .

सुधीर said...

नारद जी आपके आशीर्वाद के लिये धन्यवाद,अपनी क्रपा बनायें रखें।
सुधीर :)

राज भाटिय़ा said...

जय माता दी जी.
दशहरा की हार्दिक बधाई ओर शुभकामनाएँ!!!!