Sunday 22 September 2013

सच छोड़ ,झूठ को अपना,आगे बढ़,ज़िंदगी बना

  श्रीगंगानगर-सबका प्रिय बन। सच मत बोल।  झूठ को अपना।  उसी का हाथ पकड़। उसी के साथ चल। आगे बढ़।  जिसके पास साम,दाम,दंड,भेद हैं उससे डरना सीख।  उनकी चरण वंदना कर।  उनकी चरण रज अपने माथे पर लगा धन्य हो।  नित उठ उनके दर्शन का लाभ प्राप्त कर।  सच की जीत वाली बात किताबों में ही है।  सच नामक प्राणी की जीत पता नहीं कब होगी?झूठ हर पल जीत कर सच को अंगूठा दिखाता है। सच को खुद को प्रमाणित करना पड़ेगा। झूठ को प्रमाण की कोई जरूरत ही नहीं होती। इसलिए,हे बंधु! ये नया ज्ञान अपने दिमाग में रख। तरक्की कर। मौज मार। यही जीवन है। इसी में जिंदगी है। आनद है। उमंग है। जीवन का सार है। बाकी सब तो बेकार है। ये है तो भाव है, पैसा है, साधन है। तो आगे बढ़। सेठ,दानवीर बी डी अग्रवाल की बात पर गौर कर, जो ये कहते हैं कि उनके पिता भगत सिंह के साथ थे। यह कितने गौरव की बात है श्रीगंगानगर की इस धरा के लिए। अहा! हम भगत सिंह जैसे अद्वितीय क्रांतिवीर के साथी के दर्शन कर सके। लाला लाजपत राय के साथ जेल में रहे व्यक्ति के निकट रह सके। [उनके हवाले से प्रकाशित एक आलेख में यह जिक्र है कि साइमन कमीशन जब भारत आया [1928] तब लाला लाजपत राय के साथ उनको भी गिरफ्तार कर लिया गया था। वे भी 52 दिन जेल में रहे थे।] वैसे हमने तो अब तक यही पढ़ा था कि लाला जी लाठियों  के वार से घायल हुए जिस कारण उनका निधन हो गया था। हमने गलत पढ़ा होगा। क्योंकि सेठ जी की बात को झूठ कहने का कोई प्रश्न ही नहीं है। कैसे अज्ञानी है इतिहासकार जिन्होने इस बालक की देश भक्ति का कहीं जिक्र ही नहीं किया। जो आज सेठ मेघराज जिंदल के नाम से पूरे क्षेत्र में जाना पहचाना जाता है। इतिहास लिखवाने वाले भी कितनी भूल कर बैठे! इस सवाल को दिल से निकाल की 1928 में मेघराज जिंदल की उम्र क्या रही होगी! महान व्यक्तियों के किसी काम पर बारे में शंका नहीं करनी चाहिए। जो कहा जा रहा है उसे ब्रह्म वाक्य मान। गीता और रामायण समझ। उम्र को मत देख। भावना को देख। उसको प्रणाम कर। अपने बच्चों को उनके बारे में बता। जीवन को सफल बना। जैसे बाकी सब बना रहे हैं। हां में हां मिला रहे हैं। वैसे लाला भोला राम के सबसे बड़े बेटे अगर आज जिंदा होते तो उनकी उम्र लगभग सौ साल होती। चलो बड़े घर की बात है दस साल बढ़ा देते हैं। सेठ मेघराज जी 6 भाई बहिन में सबसे छोटे हैं। इसका मतलब जब वे लाला लाजपत राय के साथ गिरफ्तार हुए तब वे किशोर थे। कितनी बड़ी बात है। एक किशोर का 52 दिन तक जेल में रहना। 

No comments: