Friday 2 August 2013

एसपी-कलक्टर हमारे सामने ठुमके लगाएंगे.......

श्रीगंगानगर-एक समय ऐसा आएगा जब टंकी पर चढ़े लोग कहेंगे कलक्टर-एसपी हमारे सामने ठुमके लगाएं तब हम नीचे उतरेंगे।यह बात बहुत ही सजह अंदाज में कल रात राजवंश गार्डन में एसपी संतोष चालके ने कही। अवसर था राजकीय सेवा से रिटायर हुए श्रीराम चौरडिया के विदाई समारोह का। एसपी संतोष चालके श्री चौरडिया के साथ अनौचारिक क्षणों में हुई बातचीत के अपने अनुभव साझा कर रहे थे....वे कहने लगे, चौरडिया जी लोगों के टंकी पर चढ़ने की बात पर कई बार मज़ाक में मुझसे कहते...एक दिन ऐसा आएगा एसपी साहब! जब टंकी पर चढ़े लोग ये कहेंगे कि हम तो तब नीचे आएंगे जब एसपी और कलक्टर यहां आकर ठुमके लगाएंगे। लेकिन अब ये तो जा रहे हैं। मैं अकेला क्या करूंगा। श्री चालके ने कहा कि युवा अधिकारियों को श्रीराम चौरडिया जैसे अधिकारियों से बहुत कुछ सीखना चाहिए। एसपी ने अपने स्टाइल में मुस्कराते हुए कई अनुभव बताए।  जिससे माहौल में मुस्कान बिखरती रही। श्री चौरडिया की जी भर के तारीफ करते हुए कहा कि वे फुर्सत के क्षणों में  बहुत ही ज़िंदादिल व्यक्ति हैं। श्रीराम चौरडिया ने अपने सम्बोधन में संतोष चालके को अपना छोटा भाई बताया। वे बोले,मैंने हमेशा इनको एसपी नहीं छोटा भाई समझ के बात की। उनका कहना था कि कई काम और करने थे जो नहीं कर पाया उसका अफसोस है।विधायक राधेश्याम गंगानगर,बीसूका के उपाध्यक्ष राजकुमार गौड़,सभापति जगदीश जांदू, चेयरमेन ज्योति कांडा,विधायकसंतोष सहारण,शंकर पन्नू,सीता राम मौर्य सहित कई राजनीतिक व्यक्तियों ने इशारों इशारों में श्री चौरडिया को कुर्ता पायजामा सिला लेने की सलाह दी। उनके अलावा कई और ने भी श्रीराम चौरडिया को राजनीति में आने को कहा। किसी ने तो हल्के फुल्के अंदाज में श्री चौरडिया को टिकट के लिए आवेदन करने की राय भी दे दी। जगदीश जांदू और संतोष सहारण ने तो साफ शब्दों में श्री चौरडिया को कांग्रेस पार्टी में आने का निमंत्रण देते हुए कहा, पार्टी में आयें आपका स्वागत है। श्रीराम चौरडिया के एक तरफ राधेश्याम गंगानगर और दूसरी तरफ संतोष सहारण थे। तीनों लगातार बात करके हँसते रहे। कार्यक्रम में जिले भर के अधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम में शामिल कर्मचारियों,अधिकारियों का कहना था कि ऐसा आनंद दायक,खुशनुमा  माहौल बहुत सालों के बाद देखने को मिला। [समारोह में शामिल व्यक्तियों से हुई बातचीत के आधार पर] 

No comments: