Monday 9 November 2009

क्या पाया पाप कमा के

----चुटकी----

तेरे यहाँ
होते हैं
अब तो
रोज धमाके,
बता तो सही
पाक
तूने क्या पाया
पाप कमा के

5 comments:

Mithilesh dubey said...

बिल्कुल सही कहा आपने।

पी.सी.गोदियाल said...

वो भी कभी-कभी तो रियलाइज करता ही होगा, बढिया चुटकी !

ललित शर्मा said...

नारायण जी राम-राम कई दिन पाछे थारा दर्शन हुया, ओ थारो भी धमाको कम कोणी-पोकरण का धमाका सुं बडो है।

MANOJ KUMAR said...

bilkul sach hai.

Anamika said...

ek sateek chutki..bahut badhiya likhte hai aap...aur aapne khud ko hamare blog ka follower bana ke aana hi chhod diya..kripya ava-gaman banaye rakhe.shukriya.