Sunday 18 October 2015

चुनाव मेँ पराजित अग्रवालों को भी सम्मानित किया चेतना मंच ने




श्रीगंगानगर। पहली बार आज किसी संस्था ने चुनाव मेँ पराजित हुए व्यक्तियों को भी सम्मानित किया। यह अनूठा काम किया  आग्रवाल राजनीतिक चेतना मंच ने। मंच ने आज शाम को महावीर दल मंदिर मेँ नगर परिषद और छात्र संघ चुनाव लड़ चुके अग्रवाल समाज के व्यक्तियों को सम्मानित किया। मुख्य अतिथि विधायक कामिनी जिंदल ने कहा कि अग्रवाल समाज का व्यक्ति देश की बागडोर संभालने मेँ सक्षम है। इसके लिए कोई मौका देगा नहीं। यह मौका हमें छीनना पड़ेगा। विधायक ने कहा कि अग्रवाल समाज ईमानदारी, कर्मठता के लिए जाना जाता है, लेकिन व्यक्ति राजनीतिक दल मेँ छोटा पद लेकर ही संतुष्ट हो बैठ जाता है। उसे ऐसा करने की बजाए और आगे जाने की कोशिश करनी चाहिए। कामिनी जिंदल ने कहा कि हमें इस सोच को बदलना होगा। विधायक ने सभी से एक जुट होकर आगे आने का आह्वान किया। होलसेल भंडार के अध्यक्ष शिवदयाल गुप्ता ने चेतना मंच के गठन को साहसी कदम बताते हुए इसकी सराहना की। उन्होने कहा कि मंच ने चुनाव मेँ पराजित व्यक्तियों को सम्मानित कर नई पहल की है। श्री गुप्ता ने मंच को पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया। एडवोकेट नागर मल अग्रवाल ने कहा कि एक दूसरे को गले लगाने की इच्छा होगी तो एकता भी शुरू हो जाएगी। अग्रवाल सभा के राम गोपाल पांडुसरिया ने सुझाव दिया कि मंच उस स्थान पर अग्रवाल उम्मीदवार का समर्थन करे, जहां एक ही अग्रवाल चुनाव मैदान मेँ हो। नरेश मुन्ना ने कहा कि नई शुरुआत का परिणाम अच्छा आएगा। लेकिन चेतना के साथ साथ एकता की भी बात हो तो परिणाम और अच्छे आएंगे। श्री मुन्ना ने चेतना मंच के गठन को सराहनीय बताया। ओमी मित्तल ने कहा कि चेतना मंच को हर वार्ड, तहसील और जिले मेँ अपनी इकाइयों का गठन करना चाहिए। श्री मित्तल ने हर प्रकार के सहयोग का भरोसा दिलाया। महावीर गुप्ता ने कहा कि समाज को चिंतन करना चाहिए कि वह राजनीति मेँ पिछड़ा हुआ क्यों है। गिरधारी लाल गुप्ता ने कहा कि सभी पार्टी अग्रवाल को टिकट देंगी तो चेतना आएगी ही। भारत गर्ग के विचार थे कि किसी अग्रवाल को चुनाव लड़ने से रोकने की कोशिश नहीं होनी चाहिए। उसे अपनी शक्ति दिखाने का मौका मिले। वरना उसे मलाल रहता है कि उसे हटा दिया गया। सुनीला गुप्ता ने कहा कि हारने वालों का सम्मान बड़ी बात है। सुनीला ने कहा, कि वे आइंदा भी चुनाव लड़ेंगी। मंच अध्यक्ष बंशीधर जिंदल ने कहा कि शुरुआत छोटी है, लेकिन धीरे धीरे इसका बड़ा रूप सामने आएगा। महासचिव गोविंद गोयल ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए मंच के गठन के उद्देश्य बताए। उन्होने इतने संगठन होने के बावजूद राजनीतिक चेतना मंच के गठन की वजह भी बताई। उनका कहना था कि आज ऐसे मंच की जरूरत है। मंच के पदाधिकारियों बंशीधर जिंदल, प्रभाती राम अग्रवाल, गुरदीप जिंदल, रवि सरावगी, अजय गर्ग, सुमित गर्ग कामिनी जिंदल ने मेहमानों का फूल माला पहना स्वागत किया। कामिनी जिंदल को गुलदस्ता भेंट किया। स्वाति गोयल और महक बंसल ने कामिनी जिंदल को फूल माला पहनाई। चुनाव लड़ने वालों को कामिनी जिंदल, नागर मल अग्रवाल, पीएनबी के चीफ मैनेजर डी के अग्रवाल, शिवदयाल गुप्ता ने सम्मान प्रतीक देकर अभिनंदन किया। 

No comments: