Friday 1 April 2011

अमन के गीत

हार हो या जीत रहेंगे हम मीत, मैं तेरी दुआ करूँ तुम मेरी, मिलकर गाएं अमन के गीत।

No comments: