Monday, 5 July, 2010

मां का आँचल,अगली पीढ़ी

--------------
मां के आँचल
में सोने का सुख
अगली पीढ़ी
नहीं ले पायेगी,
क्योंकि
जींस पहनने वाली
मां आँचल
कहाँ से लाएगी।

मेरे मित्र राजेश कुमार द्वारा भेजा गया एक एस एम एस।

4 comments:

निर्मला कपिला said...

नारायण नारायण । महाराज इसका कोई उपाय?

राज भाटिय़ा said...

है राम....

SKT said...

धन्य, मुनिवर धन्य...मान गए आपको और आपकी नज़र को!!

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

:) :) सटीक